लगभग दो माह बाद श्रद्धालुओं के लिए खुलेगा मां कामाख्या धाम का पट

    46
    0

    गाजीपुर। मां कामाख्या धाम करहियां के श्रद्धालुओं के लिए सुखद खबर है। धाम का पट दर्शन-पूजन के लिए आठ जून की सुबह से खुलेगा।

    मां कामाख्या मंदिर सेवा समिति के उपाध्यक्ष संजीव कुमार सिंह बंटी ने यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि इस आशय का निर्णय सोमवार की सुबह समिति की हुई वर्चुवल बैठक में हुआ। बैठक की अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष जन्मेजय सिंह ने की। श्री बंटी ने बताया कि कोविड संक्रमण से बचाव के लिए प्रोटोकॉल का पूरा पालन होगा। बगैर मास्क परिसर में प्रवेश की इजाजत नहीं होगी। दो गज का फिजिकल डिस्टेंस बनाए रखना होगा। इसके लिए मंदिर परिसर में बकायदे सर्किल के निशान बनाए गए हैं। गर्भ गृह में एक बार में मात्र पांच दर्शनार्थियों को प्रवेश की अनुमति होगी।

    मालूम हो कि कोरोना के बेतहाशा बढ़ते संक्रमण के कारण चैत्र नवरात्र की पंचमी के दिन 17 अप्रैल की शाम पांच बजे से अनिश्चित काल के लिए श्रद्धालुओं खातिर मंदिर का पट बंद कर दिया गया था।

    मां कामाख्या मंदिर सेवा समिति के उपाध्यक्ष संजीव कुमार सिंह बंटी ने बताया कि बैठक में यह भी तय हुआ कि मंदिर परिसर सहित गहमर के सभी 22 टोलों और खुदरा, गदईपुर, मरकड़ा, शेरपुर, करहियां में अभियान चला कर मशीन से सेनेटाइजर तथा ब्लीचिंग पाउवडर का छिड़काव होगा। अभियान की अगुवाई हरेराम सिंह करेंगे।

    वर्चुवल बैठक में संतोष सिंह, रघुनाथ सिंह, नंदा खरवार, विपिन खरवार बबुआ, विवेक सिंह पप्पू, राज तिवारी, शंभुनाथ उपाध्याय, श्रीकांत खरवार, भीम राम आदि थे।

    यह भी पढ़ें–कुछ इस अंदाज में मना विश्व पर्यावरण दिवस

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

    Previous articleपुलिस बल पर हमले के मामले में 34 नामजद
    Next articleबिस्कुट खरीदने के लिए निकली बालिका रहस्यमय ढंग से लापता