पियक्कड़ई में यार को ही मार दी गोली, जख्मी युवक बीएचयू रेफर

    44
    0

    गाजीपुर। मनबढ़ यारों की बैठकी हो। शराब का सुरूर चढ़ा हो। तमंचा संग हंसी-ठिठौली भी चल रही हो। तब अनर्थ तय है। ऐसा ही वाकया करंडा थाने के जमुआंव गांव में गुरुवार की रात करीब आठ हुआ। एक यार ने दूसरे को ठोक दिया। गोली से जख्मी युवक संजय दूबे (32) को करंडा सीएचसी से बीएचयू ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया। इस मामले में गोली चलाने वाले युवक धीरज सिंह के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर  पुलिस उसे हिरासत में ले ली है। वह गांव के पूर्व प्रधान मुननी सिंह का पौत्र बताया गया है।

    ग्रामीणों के अनुसार यह यार मंडली रोज की तरह बैठकी जमाई थी। उनमें हंसी-मजाक चल रहा था। धीरज के पास तमंचा था। वह शेखी बघारने में उसे निकाल कर लहराने लगा। उसी बीच संजय कुछ लगने वाली बात बोल दिया। फिर तो धीरज ने उस पर गोली दाग दी। गोली संजय के सीने के दाहिने हिस्से में लगी। उसके बाद दूसरे यार मौके से खिसक लिए जबकि गोली की आवाज सुन आसपास के लोग वहां एकत्र हो गए। गोली लगने के बाद भी संजय अपने घरवालों को दिलासा देता रहा।

    सूचना मिलने के बाद पुलिस पहुंची और धीरज सिंह सहित बैठकी में शामिल रहे अन्य युवकों को हिरासत में लेकर थाने लौट गई। करंडा थाने से बताया गया है कि इस मामले में दर्ज एफआईआर में एक युवक नामजद है। धीरज सिंह दिल्ली में किसी निजी कंपनी में काम करता था लेकिन पिछले साल लॉकडाउन में घर आ गया था।

    यह भी पढ़ें–सांसद अतुल!…और अब क्या

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

     

    Previous articleगंगा घाटों पर दूसरे दिन भी पहुंचे डीएम, अंत्येष्टि की लकड़ी का तय किए भाव
    Next articleमलसा में फूड पॉइजनिंग से 217 भेड़ों की मौत