जिला पंचायतः कई जगह सपा की ‘फ्री फाइट’

    36
    0

    गाजीपुर। यकीनन सपाइयों की महत्त्वाकांक्षा काफी बढ़ गई है। यहां तक कि यह अपनों को ही हरा कर खुद जीत हासिल करने तक पहुंच गई है। इसका अंदाजा एक बार फिर सोमवार को तब मिला जब पार्टी जिला पंचायत चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों की सूची जारी की। सूची पर गौर करने पर यही निष्कर्ष निकला कि कई जगह कार्यकर्ताओं ने टिकट बंटवारे में अपने शीर्ष नेतृत्व की आमसहमति की बात नकार दी है और पार्टी विधायकों, वरिष्ठ नेताओं तक को दरकिनार कर खुद चुनाव लड़ने की जिद पर आ गए हैं।

    अब कार्यकर्ताओं की इस ‘फ्री फाइट’ का नतीजा क्या होगा। यह तो आगे पता चलेगा लेकिन पार्टी का भला चाहने वालों की मानी जाए तो यह तय है कि नतीजे को लेकर ‘लड़वइये’ कार्यकर्ताओं को भले अपना बहुत कुछ खोने के लिए नहीं होगा मगर हैरानी नहीं कि इसकी कीमत पार्टी को जरूर चुकानी पड़े।

    पार्टी ने सोमवार को अपने अधिकृत उम्मीदवारों की बहुप्रतीक्षित सूची जारी की। सूची में वह सीटें छोड़ दी गई हैं, जहां आमसहमति नहीं बनी हैं। उनमें सैदपुर विधायक सुभाष पासी तथा जंगीपुर विधायक डॉ.वीरेंद्र यादव के निर्वाचन क्षेत्र की भी ज्यादतर सीटें शामिल हैं। बल्कि इस लिहाज से देखा जाए तो अपने जहूराबाद विधानसभा क्षेत्र में पूर्व एमएलसी काशीनाथ यादव और मुहम्मदाबाद विधानसभा क्षेत्र में वरिष्ठ नेता राजेश राय पप्पी काफी हद तक कामयाब लगते हैं। पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह भी पूरे जमानियां विधानसभा क्षेत्र न सही कम से कम गृह ब्लाक भदौरा में अपना मानजान जरूर बचा लिए हैं।

    यह हैं घोषित उम्मीदवार

    बाराचवर प्रथम मीना यादव, बाराचवर द्वितीय संजू यादव, बाराचवर तृतीय डीम्पल राय, बाराचवर चतुर्थ रविंद्र प्रताप यादव, कासिमाबाद प्रथम अनीता यादव, कासिमाबाद द्वितीय सुभाष चंद्र राम, कासिमाबाद तृतीय प्रियंका यादव, कासिमाबाद चतुर्थ रामजी यादव, मनिहारी प्रथम बिंदू कनौजिया, मनिहारी द्वितीय कमलेश यादव, मनिहारी तृतीय मेवाती देवी, मनिहारी चतुर्थ सरोज वनवासी, मनिहारी पंचम कैलाशनाथ यादव, जखनियां द्वितीय गिरजा देवी, जखनियां तृतीय श्याम कुमारी, जखनियां चतुर्थ शांति देवी, सादात द्वितीय ज्योति देवी, सादात तृतीय-अजय कुमार राम, सैदपुर द्वितीय विरेंद्र यादव मुन्ना, देवकली प्रथम अनिता यादव, देवकली द्वितीय, कमलेश यादव (नसीरपुर), देवकली तृतीय-अरविंद कुमार यादव, देवकली चतुर्थ सुनील यादव, देवकली पंचम अजय यादव, करंडा द्वितीय प्रभुनाथ राम, करंडा तृतीय पंकज यादव, गाजीपुर सदर तृतीय आलोक कुमार, गाजीपुर सदर चतुर्थ महेश यादव, रेवतीपुर प्रथम माधुरी सिंह, रेवतीपुर द्वितीय मनीष कुमार पांडेय, रेवतीपुर चतुर्थ शकुंतला देवी, जमानियां तृतीय प्रियंका यादव, जमानियां पंचम रामजी राम पासी, भदौरा प्रथम तारा देवी, भदौरा द्वितीय पूजा सिंह, भदौरा तृतीय रेनू सिंह, भदौरा चतुर्थ साधना मौर्य, मुहम्दाबाद प्रथम ममता यादव, मुहम्मदाबाद द्वितीय प्रीतम कुमार पासवान, मुहम्मदाबाद चतुर्थ कुलदीप यादव, भांवरकोल प्रथम तेजप्रकाश सिंह कुशवाहा, भांवरकोल द्वितीय गिरीश राय और भांवरकोल तृतीय दरख्शा खातून है।

    …पर गठबंधन धर्म जरूर बचा

    इस मारामारी की स्थिति में गठबंधन धर्म की मर्यादा निभाने का मौका कार्यकर्ताओं ने पार्टी को जरूर दे दिया है। यही वजह है कि जखनियां प्रथम, मरदह प्रथम, सादात प्रथम जनवादी पार्टी (सोस्लिस्ट) के लिए छोड़ दी गई है। उनमें उस पार्टी के राजेश चौहान मरदह प्रथम, अनिता यादव पत्नी रामवृक्ष यादव जखनियां प्रथम तथा सादात प्रथम रामकिशुन सोनकर उम्मीदवार हैं।

    यह भी पढ़ें–क्विक एक्शन, कलर्क सस्पेंड

    ‘आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

     

    Previous articleपंचायत चुनाव: नामांकन पत्र को लेकर फ़र्जरी, प्रशासन का क्विक एक्शन
    Next articleसपाः राधेमोहन ने जीत ली पहली लड़ाई! सीधे राष्ट्रीय अध्यक्ष की दखल पर पत्नी को मिला टिकट