पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का निर्माण रोक किसानों का धरना-प्रदर्शन

    31
    0

    गाजीपुर। सर्विस लेन की मांग को लेकर गुरुवार को आक्रोशित किसानों ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का काम रोक दिया और मुहम्मदाबाद तहसील क्षेत्र के जोगामुसाहिब स्थित नूरपुर मौजा के पास धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिए। मुख्यमंत्री के इस ड्रीम प्रोजेक्ट में आई इस रुकावट पर अधिकारियों में खलबली मच गई और आखिर में लिखित आश्वासन के बाद किसान धरना-प्रदर्शन खत्म किए। तब अधिकारियों ने भी राहत की सांस ली।

    जोगामुसाहिब के पास नूरपुर मौजे के पास कलवट (अंडर पास) बन रहा है। किसानों का कहना था कि उससे बरसात के दिनों में ट्रैक्टर आदि लेकर वह अपने सिवान के उस पार नहीं जा सकते। उस दशा में उनकी रबी सत्र की बोआई एकदम से बाधित हो जाएगी। इसके लिए किसान दो सप्ताह पहले तहसीलदार मुहम्मदाबाद से मिले थे। उन्होंने उनकी मांग को सिद्धांतः मानते हुए आवश्यक कार्यवाही का आश्वासन भी दिया था। बल्कि पिछले साल किसानों ने डीएम को भी इस आशय का ज्ञापन दिया था। बावजूद कुछ नहीं हुआ।

    पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य रोके जाने की सूचना मिलते ही एसडीएम मुहम्मदाबाद राजेश गुप्त, सीओ कासिमाबाद महिपाल पाठक हांफते सदलबल मौके पर पहुंचे। किसानों को भरसक समझा कर शांत कराने का प्रयास किए लेकिन किसान अड़े रहे। आखिर में यूपीडा के एक्सईएन एमके अनिल ने ई-मेल कर सर्विस रोड बनाए जाने का लिखित आश्वासन दिया। तब किसान धरना-प्रदर्शन खत्म किए।

    धरना-प्रदर्शन में शामिल किसानों में अनिल राय, विनोद राय, आशुतोष राय, रविशंकर राय, सुभाष राय, झंडे राय, रंजन राय, संतोष राय आदि प्रमुख थे।

    यह भी पढ़ें–ऐसा! मुख्तार की बैरक क्वारंटीन

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

     

    Previous articleकैदियों का वैक्सीनेशन शुरू, डीजे की अगुवाई में डीएम-एसपी का दौरा
    Next articleकिशोरी के हमलावर ने जेल में लगाई फांसी