स्कूल कैंपस में चल रही थी शराब फैक्ट्री, 55 लाख की शराब बरामद

    33
    0

    गाजीपुर। स्कूल कैंपस में चल रही थी नाजायज शराब फैक्ट्री। यूपी एसटीएफ के इनपुट पर गुरुवार की आधी रात छापेमारी में करीब 55 लाख रुपये की शराब के अलावा एक दस चक्का ट्रक, डीसीएम कंटेनर सहित काफी संख्या में बोतल, ढक्कन, स्प्रीट, यूरिया, प्रमुख ब्रॉंडों के रैपर बरामद हुए। कुल चार लोग गिरफ्तार किए गए।

    पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्रकाश सिंह शुक्रवार की दोपहर गिरफ्तार लोगों को मीडिया के सामने पेश किया। बताए कि इनपुट मिलने के बाद एसटीएफ की टीम गाजीपुर पहुंची और नोनहरा पुलिस तथा आबकारी विभाग की साझी कार्रवाई के तहत महेशपुर चट्टी पर एक डीसीएम कंटेनर पकड़ा गया उसमें अंग्रेजी शराह भरी थी। कंटेनर पर सवार तीन लोगों की निशानदेही पर एमजेआरपी शिक्षा निकेतन पब्लिक स्कूल रोहली में छापा मारा गया। वहां 1250 पेटी अंग्रेजी शराब, दो ड्रम स्प्रिट, 33440 शीशी और बोतल, 78205 ढक्कन, अंग्रेजी शराब के प्रमुख ब्रॉंडों के रैपर, सीलिंग मशिन, 12 शीशी कैरमल (रंग), 12 किलो यूरिया वगैरह की बरामदगी हुई।

    पुलिस कप्तान ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में दो सुल्तानपुर जिले के रहने वाले हैं इनमें हसन अली शिवपुर थाना चांदा, करामत अली दिखौली थाना धम्मौर के अलावा गोविंद साह देवरिया तथा जावेद मेवाती बलसमत थाना तरारात जिला खरगौन मध्य प्रदेश का रहने वाला है जबकि स्कूल प्रबंधक प्रदुमन राम तथा इस रैकेट में शामिल एक अन्य धर्मेंद्र मौर्य निवासी ब्रह्म स्थान कोतवाली जिला मऊ फरार है।

    पुलिस कप्तान ने बताया कि होली तथा पंचायत चुनाव में शराब की बेतहाशा मांग को देखते हुए यह रैकेट सक्रिय था। बल्कि इस फैक्ट्री से एक बड़ी खेप आस-पास के जिलों में पहुंचा भी दी गई थी।

    यह भी पढ़ें—भाजपाः जिसका कोई नहीं उसका तो…

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

     

    Previous articleडॉ.महेंद्र पांडेय के प्रयास से भाजपा के पूर्व कार्यालय प्रभारी को मिली मदद
    Next articleपंचायत चुनाव: आरक्षण प्रक्रिया पर हाईकोर्ट की रोक