पुत्र की चाह पूरी न होने पर घोंट दिया पत्नी का गला

    34
    0

    भांवरकोल (गाजीपुर)। समाज में लिंग भेद की जड़ता इस कदर गहरी पैठ गई है कि पुत्र की चाहत में इंसान किसी भी हद तक चला जा रहा है। अजईपुर गांव में गुरुवार की दोपहर हुए वाकए ने पूरे गांव को झकझोर दिया। युवक भरत गोंड ने अपनी पत्नी तेतारी देवी का गला घोंट दिया।

    तेतारी देवी (26) का कसूर यही था कि वह पति सहित ससुरालियों की पुत्र की चाहत पूरी नहीं कर पा रही थी। शादी के 12 साल बाद भी उसकी  कुल तीन संतानें हुईं लेकिन वह तीनों पुत्रियां ही रहीं। इसके लिए ससुरालीजन उसे ताना मारते और प्रताड़ित करते थे। आए दिन पति भरत गोंड शराब पीकर घर आता और तेतारी को मारता-पीटता। दोपहर में भी उसने शराब के नशे में पत्नी की पिटाई शुरू कर दी और उसी बीच उसका गला घोंट दिया।

    पड़ोसियों के जरिये पुलिस को घटना की जानकारी मिली। पुलिस मौके पर पहुंची। तब तेतारी का शव मड़हे में पड़ा था। पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्रकाश सिंह भी मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली।

    एसओ शैलेश कुमार मिश्र ने बताया कि तेतारी का मायका क्षेत्र के ही बदौली गांव में था। उसके पिता शिवप्रसाद गोंड़ की तहरीर पर पति भरत के अलावा ससुर शिवगोविंद, सास मनकिया देवी तथा देवर लक्ष्मण के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई है।

    यह भी पढ़ें—तुस्सी ग्रेट हो अखिलेश

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

    Previous articleमेधावी अखिलेश का धमाल, पीसीएस परीक्षा में मिला 19वां स्थान
    Next articleकलेक्ट्रेट बार के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने ग्रहण किया पदभार