सामाजिक समरसता की प्रतिमूर्ति थे रमाकांत राय

    34
    0

    लौवाडीह (गाजीपुर)। समाजसेवी किसान, चिंतक स्व. रमाकांत राय की आठवीं पुण्य तिथि बुधवार को सादगीपूर्वक उनके गृह ग्राम अवथहीं में मनाई गई। पूर्व विधायक उमाशंकर कुशवाहा पूर्व ब्लाक प्रमुख शारदानंद राय लुटूर, वीरेंद्र राय, भांवरकोल ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि वीरेंद्र यादव, जयगोविंद राय और उनके परिजनों समेत सैकड़ों लोगों ने स्व. राय के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए उनके आदर्शों, विचारों और कार्यों को याद किया। इस दौरान एक सद्भाव प्रार्थना समारोह का भी आयोजन किया गया। समारोह के आयोजक शिवकुमार राय ने बताया है कि इस अवसर पर गणेश पूजा और शिव पूजा के बाद गांव के कई लोगों को सम्‍मानित किया गया।

    प्रार्थना सभा की शुरुआत से पूर्व  रुद्राभिषेक किया गया। उसके बाद पूर्व विधायक उमाशंकर कुशवाहा ने दीप प्रज्ज्वलित कर प्रार्थना सभा का शुभारंभ किया। उन्होंने स्व. रमाकांत राय के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए कहा कि रायसाहब सभी लोगों को एक समान दृष्टि से देखते थे। उनका सामाजिक समरसता में अटूट विश्वास था। यही कारण है कि सभी वर्गों के लोग उनके आदर्शों को याद करते हैं और उनमें अपनी आस्था जताते हैं। उन्होंने कहा कि रायसाहब न केवल हम लोगों के पथप्रदर्शक थे बल्कि उनके आदर्शों पर चलकर लोगों ने कई मुकाम हासिल किए हैं। उन्होंने राय साहब के संकल्पों को याद करते हुए कहा कि राय साहब ने जो समाज से वादा किया था और जो समाज के लिए सपना देखे थे हमलोग उसे मिलकर हर हाल में पूरा करेंगे।

    इस मौके पर कई गणमान्य व्यक्तियों ने उन्हें याद करते हुए उनके द्वारा बनाए पदचिंहों पर चलने का संकल्प लिया। राय साहब को श्रद्धांजलि देने वालों में वीरेंद्र राय, मुहम्मदाबाद  प्रबल ब्रम्ह इंटर कालेज के प्रधानाचार्य प्रेमशंकर राय, अखिलेश राय, कविंद्र राय, हीरा यादव, सूर्यनाथ यादव, अशोक राय, रामबिलास राय, सियाराम राय दयाशंकर दूबे, पंकज त्रिवेदी, नीरज राय, विंध्याचल पाठक, रविंद्र राय, दिवाकर राय आदि समेत सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

    यह भी पढ़ें—हाय दईया! प्रधानजी गईं जेल

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

    Previous articleगबन में निवर्तमान प्रधान गईं जेल, मामला बिरनो के सरदरपुर का
    Next articleपीडब्ल्यूडी के `भ्रष्ट इंजीनियर्स` के विरुद्ध अपनी जंग में अकेली पड़ीं संगीता बलवंत!