कुछ ही घंटे में टूट गई शादी, बैरंग लौटा पोलियोग्रस्त दूल्हा

    35
    0

    गाजीपुर। कासिमाबाद क्षेत्र के बलेसड़ी गांव में एक अनोखा वाकया हुआ। रविवार की रात निकाह हुआ और सुबह दुल्हन तलाक दे दी। नतीजा बारात को बैरंग लौटना पड़ा।

    बेलसड़ी गांव के समसुद्दीन अहमद की बेटी नाजिया खातून की शादी बक्सर (बिहार) के कुकरहां गांव के अब्दुल कलाम के बेटे फारुख अहमद से चार माह पूर्व तय हुई थी। नीयत तारीख और वक्त पर बारात बेलसड़ी पहुंची। बारातियों की खूब खातिरदारी हुई। काजी ने बकायदा निकाह कराया। सुबह दूल्हा फारूक अहमद को घर में महिलाएं बुलाकर बातचीत करने लगीं। उसी बीच महिलाओं की नजर दूल्हे के पोलियोग्रस्त  दायां हाथ एवं पैर पर पड़ी। इसको लेकर दुल्हन पक्ष में प्रतिक्रिया शुरू हो गई। उनका कहना था कि दूल्हे की अपंगता को उनसे छिपाया गया था। उधर दुल्हन नाजिया खातून इतनी खफा हुई कि वह ससुराल जाने से ही मना कर दी। फिर तो घरातियों और बारातीयों में किचकिच शुरू हो गई।

    उसी बीच किसी ने 112 नंबर पर कॉल कर दिया। मामला थाने पर पहुंच गया। जहां आखिर में यह तय हुआ कि दूल्हा फारूक अहमद दुल्हन नाजिया खातून को तलाक देंगे और मेहर की पांच हजार की रकम लौटाएंगे। हालांकि दूल्हा और उसके पक्ष के लोग तलाक देने के पक्ष में नहीं थे लेकिन दुल्हन की जिद के आगे उनकी एक नहीं चली।

    यह भी पढ़ें–मुख्तार की पत्नी और बेटे…

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

     

    Previous articleमुख्तार की पत्नी और बेटों ने अपने पासपोर्ट किए सरेंडर
    Next articleभांवरकोल: अंसारी बंधुओं के लिए इस बार सहज नहीं रहेगी जिपं की प्रथम सीट!