मुख्यमंत्री के संभावित दौरे को लेकर प्रशासन अलर्ट

    40
    0

    बाराचवर/गाजीपुर(यशवंत सिंह)। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के आठ फरवरी को संभावित दौरे को लेकर प्रशासन अलर्ट हो गया है।

    यूपीडा की ओर से प्रशासन को शुक्रवार को मिली इस आशय की मौखिक सूचना के बाद शाम करीब तीन बजे डीएम एमपी सिंह और पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्रकाश सिंह पूरे लाव लश्कर के साथ पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के निर्माण स्थल बाराचवर पहुंच गए और मुख्यमंत्री के संभावित कार्यक्रम की व्यवस्था के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

    यूपीडा की सूचना के मुताबिक मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से आएंगे और पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य की भौतिक प्रगति का अवलोकन करेंगे। मुख्यमंत्री के इस संभावित कार्यक्रम की तैयारी में बाराचवर में हेलीपैड बनेगा। एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य करा रही कंपनी ओरिएंटल स्ट्रक्चर इंजीनियर प्राइवेट लिमिटेड कंस्ट्रक्शन के बाराचवर स्थित कैंप ऑफिस और उसके आस-पास की सफाई कराने का काम भी शुरू हो गया है। यूपीडा के सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर कासिमाबाद क्षेत्र के धरवारकला स्थित ओरिएंटल कंपनी के सी-वन ऑफिस के पास उतरेगा। उसके बाद एक्सप्रेस वे से ही कार से मुख्यमंत्री कंपनी के ही बाराचवर कैंप ऑफिस तक आएंगे और वहीं से हेलीकॉप्टर से वापसी के लिए उड़ान भरेंगे।

    मालूम हो कि पू्र्वांचल एक्सप्रेस वे मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल है और पूर्व घोषणा के मुताबिक यह एक्सप्रेस वे को इसी साल मार्च में आंशिक रूप से चालू होना है और अगस्त से इस पर पूर्णत: आवागमन शुरू होने के साथ ही टोल टैक्स की वसूली भी होने लगेगी।

    यह भी पढ़ें—…जब भाजपाई धमके तहसील में

    मुख्यमंत्री के संभावित कार्यक्रम को लेकर यह भी चर्चा शुरू हो गई कि उनके इस दौरे में गहमर जाने का भी कार्यक्रम प्रस्तावित है लेकिन जमानियां विधायक सुनीता सिंह ने इस बात को खारिज किया। बताईं कि मुख्यमंत्री ने मार्च के आखिर अथवा अप्रैल के पहले सप्ताह में गहमर आने का आश्वासन दिया है और तब वह गहमर के लिए कोई बड़ी सौगात भी देंगे।

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

    Previous articleमामूली विवाद में मौसेरे भाई को उतार दिया मौत के घाट
    Next articleअंधऊ की निवर्तमान प्रधान के विरुद्ध एफआईआर