रिश्वतखोर नायब दारोगा सस्पेंड

    32
    0

    बाराचवर/गाजीपुर (यशवंत सिंह)। करीमुद्दीनपुर थाने में तैनात रहे नायब दारोगा योगेंद्र पाल को पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्राकाश सिंह ने निलंबित कर दिया है। यह कर्रवाई रिश्वत मांगने के आरोप में हुई है।

    करीमुद्दीनपुर के ही रहने वाले संजय कुमार वर्मा ने पुलिस कप्तान से इस आशय की लिखित शिकायत की थी। नायब दारोगा का रिश्वत मांगने का वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। पुलिस कप्तान ने इल मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपित नायब दारोगा योगेंदेर पाल को लाइन हाजिर करने के साथ ही पूरे प्रकरण की जांच सीओ मुहम्मदाबाद से कराई। फिर जांच रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस कप्तान ने उन्हें निलंबित कर दिया। हालांकि इस कार्रवाई से पहले ही योगेंद्र पाल गैर जिले के लिए अपनी रवानगी करा चुके हैं। उनका गैर जनपद के लिए तबादला आदेश पहले से ही लंबित था।

    यह भी पढ़ें—‘लव जिहादी’ को कैद-ए-बामुशक्कत

    आरोप के मुताबिक करीमुद्दीनपुर के पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था। कॉल मिलने पर 112 पीआरवी की टीम मौके पर पहुंच कर पति को करीमुद्दीनपुर थाने में लाकर सुपुर्द कर दी थी। उसे छोड़ने के नाम पर नायब दारोगा उसे छोड़ने के नाम पर दस हजार रुपये की रिश्वत मांगी गई। रिश्वत ना देने पर बिना लिखा पढ़ी उसे थाने में घंटों रोके रखे थे।

    आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

     

    Previous articleकिशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाले युवक को 15 साल की कठोर कैद, 70 हजार का अर्थ दंड
    Next articleरक्षा मंत्री के रिश्तेदार बृजेंद्र सिंह ने ब्लाक प्रमुख के लिए ठोकी दावेदारी