अब फर्जी प्रमाण पत्र पर नौकरी करता पकड़ा गया ग्राम पंचायत अधिकारी

    31
    0

    गाजीपुर। परिषदीय स्कूलों में ही नहीं पंचायत राज विभाग में भी फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्रों के जरिये नौकरी करने का मामला सामने आया है। भांवरकोल ब्लाक में एक ऐसा ही ग्राम पंचायत अधिकारी पकड़ा गया है। डीपीआरओ रमेशचंद्र उपाध्याय ने उससे तीन दिन के अंदर जबाव देने को कहा है। जांच में उसका हाईस्कूल का प्रमाण पत्र फर्जी मिला है।

    ग्राम पंचायत अधिकारी भोला राम भांवरकोल ब्लाक के मिश्रवलिया ग्राम पंचायत में तैनात था लेकिन ग्रामीणों की शिकायत पर कुछ दिन पहले उसे जिला मुख्यालय से अटैच कर दिया गया था। साथ ही उसके फर्जीवाड़े की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित की गई। जांच में पता चला की नियुक्ति के वक्त उसकी ओर से उपलब्ध कराए गए हाईस्कूल का अंकपत्र फर्जी है। उसका सत्यापन जनता जनार्दन इंटर कॉलेज गांधी नगर के अलावा यूपी बोर्ड से कराया गया।

    भोला राम की नियुक्ति मृतक आश्रित कोटे से हुई थी। उसके रिटायरमेंट में भी कुछ ही साल रह गए हैं। डीपीआरओ ने बताया कि आरोपी पंचायत अधिकारी अपने पक्ष में साक्ष्य और संतोषजनक जवाब नहीं दिया तो एकपक्षीय कर्रवाई करते हुए उसे बर्खास्त कर दिया जाएगा।

    यह भी पढ़ें—हद है! ट्रेनों में यह भी

    Previous articleगाजीपुर-बांद्रा एक्सप्रेस से लोकल बोतल बंद पानी बरामद, कार्रवाई को लेकर टीसी से भिड़ा पेंट्रीकार मैनेजर
    Next articleसमाजवादी पार्टी को उसकी खुद की करनी ले डूबीः शादाब फातिमा