नसबंदी के बाद महिला की मौत, विरोध में शव के साथ धरना

    30
    0

    गाजीपुर। नसबंदी के छह दिन बाद महिला की मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने बुधवार की शाम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मनिहारी के सामने शव रख कर धरना  दिया। करीब आधा घंटा बाद मौके पर पहुंचे एसडीएम जखनियां और सीओ भुड़कुड़ा ने मृत महिला के घरवालों को मुआवजा दिलाने और शव का पोस्टमार्टम कर दोषी चिकित्सा कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिया। उसके बाद धरना खत्म हुआ।

     

    यह भी पढ़ें—अपहरण-गैंगरेप, अब उम्रकैद

    महिला पूनम (35) पत्नी छविनाथ का मायका जंगीपुर थाने के रंजितपुर में था जबकि उसकी ससुराल भदोही जिले के दरवासी थाना कोईरौना में था। वह शुक्रवार को मनिहारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आयोजित कैंप में अपनि मां तथा भाभी के साथ पहुंच कर नसबंदी कराई थी। उसके बाद उसे छुट्टी दे दी गई थी लेकिन अचानक उसकी तबीयत बिगड़ी और मौत हो गई।

    इस सिलसिले में ‘आजकल समाचार’ ने सीएमओ जीसी मौर्य से फोन पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में आया है। इसकी जांच वह एसीएमओ से कराएंगे। दोष मिलने पर जिम्मेदार विभागीय कर्मियों पर निश्चित कार्रवाई होगी। पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद के लिए शासन को चिट्ठी भी भेजी जाएगी।

    Previous articleकिशोरी का अपहरण कर गैंगरेप करने वाले दो युवकों को उम्रकैद
    Next article…और ऐसे खुलती गई मठिया की मर्डर मिस्ट्री