जबरिया रास्ता रोकने की शिकायत पर बिफरे दबंग, ग्राम प्रधान के घर धावा बोल तोड़फोड़, महिला सहित दो को किए जख्मी

    37
    0

    बाराचवर (गाजीपुर)। एक जाति विशेष के दबंगों ने ग्राम प्रधान के घर धावा बोलकर लाखों के सामान तोड़ फोड़ दिए और ग्राम प्रधान के भाई सहित दो को हमला कर जख्मी कर दिए। घटना करीमुद्दीनपुर थाने के बथोर गांव की है। ग्राम प्रधान मंजर हुसैन का कसूर यही था कि वह अपनी ग्राम पंचायत के अति पिछड़ी जाति के एक गरीब किसान के खेत के रास्ते को जबरिया रोके जाने पर आपत्ति किए थे। इस मामले में करीमुद्दीनपुर गांव के नौ लोगों को नामजद किया गया है। वह सभी फरार हैं। सुरक्षा के लिहाज से ग्राम प्रधान के घर पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए हैं।

    यह भी पढ़ें–…पर रेलवे उनका नहीं लौटाएगा पैसा

    शनिवार की सुबह वह किसान अपने खेत के लिए निकला लेकिन कांटे डाल कर रास्ता रोक दिया गया था। कांटे हटाकर आगे जाना चाहा तो उसे डरा-धमका कर भगा दिया गया। वह बेचारा अपने ग्राम प्रधान के यहां पहुंचा और पूरा किस्सा सुनाया। ग्राम प्रधान उसे ढांढस देकर उन लोगों के घर पहुंच कर उस वाकये पर आपत्ति जताए। ग्राम प्रधान का इस तरह अपने घर आना नागवार लगा। वह लोग गोल बनाकर ग्राम प्रधान के घर पहुंच कर उनके संग गाली गलौज किए। उससे भी उन्हें संतोष नहीं हुआ और फिर शाम को लाठी-डंडे लेकर ग्राम प्रधान के घर पहुंच गए। उनके तेवर और उग्र थे। वह घर में घुस कर कूलर, पंखा, टीवी, फर्नीचर, वेशिन समेत अन्य कीमती सामान तोड-फोड़ दिए। उसी बीच उस गरीब किसान की पत्नी रमावती भी पहुंच गई। उसे भी मारने लगे। जब ग्राम प्रधान के भाई ने उनको टोका तो वह उन पर भी पिल पड़े। अपनी वाली करने के बाद वह सभी धमकी देते हुए चले गए।

    सूचना मिलने पर करीमुद्दीनपुर पुलिस पहुंची। मामले की नाजुकता समझ एएसपी ग्रामीण अनिल कुमार झा, एसडीएम मुहम्मदाबाद राजेश गुप्त, सीओ मुहम्मदाबाद विनय गौतम भी बथोर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी लेने के बाद मातहतों को आवश्यक कार्रवाई का निर्देश दिए।

    ग्राम प्रधान मंजर हुसैन अपने मधुर व्यवहार से न सिर्फ अपनी ग्राम पंचायत में बल्कि आसपास के गांवों में भी लोकप्रिय हैं। उनके साथ ऐसी घटना से ग्रामीणों में तीखी प्रतिक्रिया है। इसी बीच एसएचओ करीमुद्दीनपुर केके सिंह ने बताया कि नामजद अभियुक्तों के घर और उनके संभावित ठिकानों पर कई बार दबिश डाली गई है लेकिन वह सभी फरार हैं।

    Previous articleसुहेलदेव एक्सप्रेस से वंचित यात्रियों को टिकट के पैसे नहीं होंगे वापस
    Next articleप्रशासन ने रोकी सपा की किसान यात्रा, जिलाध्यक्ष सहित कई दिग्गज हाउस अरेस्ट