भाजपा एमएलसी विशाल सिंह चंचल की बात सरासर झूठ: ओमप्रकाश राजभर

    46
    0

    गाजीपुर। सुभासपा अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने भाजपा एमएलसी विशाल सिंह चंचल के कथन को झूठा करार दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा झूठ बोलने वालों की पार्टी है और एमएलसी विशाल सिंह चंचल उसी पार्टी के हिस्सा हैं।

    मालूम हो कि एमएलसी चुनाव में अपने पार्टी अभियान के तहत बीते 28 नवंबर को जहूराबाद विधानसभा क्षेत्र के कामूपुर में कार्यकर्ताओं सम्मेलन में भाजपा एमएलसी विशाल सिंह चंचल ने कहा था कि ओमप्रकाश राजभर को भाजपा से गठबंधन तोड़ने का घोर पछतावा है। श्री चंचल ने बताया था कि श्री राजभर की उनसे एक विवाह समारोह में मुलाकात हुई थी। तब बातचीत में उन्होंने भाजपा से गठबंधन तोड़ने और मंत्री पद छोड़ने का अपना पश्चताप जाहिर किया था।

    यह भी पढ़ें—यात्रीगण कृपया ध्यान दें

    श्री चंचल के उस कथन की चर्चा पर ओमप्रकाश राजभर ने एक प्रमुख अखबार के डिजिटल संस्करण से अपने चिरपरिचित अंदाज में कहा-बीजेपी मतलब भारतीय झूठ पार्टी और विशाल सिंह चंचल उसी पार्टी के एमएलसी हैं। रही बात श्री चंचल से मुलाकात की तो मेरे पार्टी विधायक त्रिवेणी राम की पुत्री के विवाह समारोह में भेंट जरूर हुई थी लेकिन तब उनसे कोई राजनीतिक चर्चा नहीं हुई थी।

    श्री राजभर यह भी जोड़े कि भाजपा के लोग डेढ़ साल से कह रहे हैं कि सुभासपा के विधायक टूट कर उनकी पार्टी में आने वाले हैं लेकिन हकीकत क्या है यह सबको पता है।

    सुभासपा का भाजपा से गठबंधन 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले हुआ था। विधानसभा चुनाव में भाजपा कुल आठ सीट सुभासपा के लिए छोड़ी थी। चार सीट पर उसे जीत मिली थी। उनमें गाजीपुर की जहूराबाद से खुद सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर तथा जखनियां से त्रिवेणी राम जीते थे। चुनाव बाद योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में भाजपा की सरकार बनी तो उसमें ओमप्रकाश राजभर को कैबिनेट मंत्री का पद भी मिला था लेकिन पिछले साल लोकसभा चुनाव में टिकट बंटवारे को लेकर वह गठबंधन टूट गया था और ओमप्रकाश राजभर का मंत्री पद भी चला गया था।

    Previous articleगाजीपुर सिटी-कोलकाता एक्सप्रेस 13 से फिर चलेगी
    Next articleपंचायत चुनाव : मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन अब 22 जनवरी को