पूर्वांचल एक्सप्रेस वेः जनवरी में हो जाएगा चालू

    38
    0

    कासिमाबाद, गाजीपुर (यशवन्त सिंह)। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे जनवरी तक चालू हो जाएगा। उसके बाद अगले वित्तीय साल में अप्रैल तक उस पर गुजरने वाले वाहनों से टोल टैक्स की वसूली भी शुरू हो जाएगी।

    पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के चल रहे निर्माण कार्य का शनिवार को जायजा लेने आए कार्यदायी संस्था यूपीडा के सीईओ और अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने यह दावा किया। बुढ़नपुर स्थित ओरिएंटल स्ट्रक्चरल इंजिनियर्स प्राइवेट लिमिटेड के कैंप कार्यालय में श्री अवस्थी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे देश का सबसे महत्वपूर्ण एवं व्यस्ततम एक्सप्रेस वे में से एक होगा। पूर्वांचल के लोग सड़क मार्ग से दिल्ली जाने के लिए इस एक्सप्रेस वे से लखनऊ पहुंचेंगे। फिर आगरा एक्सप्रेसवे से दिल्ली तक जाएंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे देश का सबसे बड़ा और लंबा एक्सप्रेसवे हो जाएगा। उन्होंने बताया कि कनेक्टिविटी के मामले में भी यह सबसे व्यस्ततम एक्सप्रेसवे साबित होगा। गाजीपुर से लखनऊ तीन से साढ़े तीन घंटे का सफर हो जाएगा जबकि दिल्ली तक की यात्रा नौ घंटे की होगी।

    यह भी पढ़ें–उधर ‘बॉस’ उड़े, इधर…

    एक सवाल पर श्री अवस्थी ने  बताया कि एक्सप्रेस वे के निर्माण में गीली मिट्टी होने के कारण कुछ अड़चनें आ रही हैं। इसके लिए गाजीपुर तथा मऊ डीएम को कहा गया है कि कहीं अन्यत्र से सूखी मिट्टी की व्यवस्था कराएं। इससे पूर्व श्री अवस्थी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की मशीन से खुदाई करवाकर निर्माण की गुणवत्ता को परखा और उस पर संतुष्टि जताई।

    पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के संबंध में विस्तार से बताते हुए कहा कि एक्सप्रेस वे गाजीपुर लखनऊ से तो  जुड़ेगा। साथ ही इस एक्सप्रेस वे से गोरखपुर को भी जोड़ने का काम चल रहा है। बिहार, बलिया और बनारस को भी इससे कनेक्टिविटी की सुविधा मिलेगी। इसी क्रम में प्रस्तावित बलिया लिंक एक्सप्रेस वे के कार्य शुरू होने के सवाल को वह हंसते हुए टाल गए।

    इस निरीक्षण कार्यक्रम में चेयरमैन उद्योग बंधु आलोक टंडन, अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आलोक कुमार भी श्री अवस्थी के साथ आए थे। उनका हेलीकॉप्टर शाम सवा दो बजे उतरा और 3.25 बजे वापसी का उड़ान भरा। हेलीपैड पर डीएम एमपी सिंह के अलावा डीएम मऊ अमित सिंह बंसल, पुलिस अधीक्षक गाजीपुर डॉ. ओम प्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक मऊ घुले सुशील चंद्रभान ने अपर मुख्य सचिव की अगुवानी की। हेलीपैड पर पुलिस के जवानों ने गॉड ऑफ ऑनर दिया।

    Previous articleमुख्तार की पत्नी और सालों का करोड़ों का भूखंड कुर्क
    Next articleअब मुख्तार के बड़े बेटे अब्बास अंसारी के भूखंड को सीज करने की तैयारी