पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर गुस्सा, विद्यार्थी परिषद ने महाराष्ट्र सरकार का फूंका पुतला

    32
    0

    गाजीपुर। रिपब्लिक भारत न्यूज टीवी चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर गाजीपुर में भी तीखी प्रतिक्रिया है। पत्रकारों और छात्रों ने इस कार्रवाई को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हमला करार दिया। जहां गाजीपुर पत्रकार एसोसिएशन की अगुवाई में पत्रकारों ने डीएम को ज्ञापन सौंप अपना गुस्सा प्रकट किया वहीं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने शहर के विशेश्वरगंज चौराहे पर महाराष्ट्र सरकार का पुतला फूंका।

    यह भी पढ़ें–ओह! वह ऐसे कर ली खुदकुशी

    अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता जिला संयोजक सूरज यदुवंश के नेतृत्व में विशेश्वरगंज चौराहे पर एकत्र हुए। उनका कहना था कि महाराष्ट्र सरकार पत्रकार की गिरफ्तारी कर आपातकाल की याद दिला दी है। अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी कर महाराष्ट्र सरकार ने लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का गला घोंटा है। यह सरासर निंदास्पद कृत्य है। इसे परिषद के लोग हरगिज बर्दाश्त नहीं करेंगे। महाराष्ट्र सरकार और महाराष्ट्र पुलिस के खिलाफ अपनी आवाज तब तक बुलंद रखेंगे, जब तक इस मामले की उच्च स्तरीय जांच न हो जाए। अंत में महाराष्ट्र सरकार का पुतला फूंका गया। पूतला फूंकने वालों में प्रदेश सह मंत्री कामदेश्वर सिंह, प्रांत कार्यसमिति सदस्य सारंग राय, सदर तहसील संयोजक रोशन विश्वकर्मा, शशांक शेखर सिंह, आदित्य राज सिन्हा, चंद्र प्रकाश वर्मा, शाश्वत सिंह, दीपक तिवारी, अवनीत राजभर, शुभम राय, मनीष ठठेरा, रवि जायसवाल, आशीष सिंह आदि थे।

    उधर गाजीपुर पत्रकार एसोसिएशन के बैनर तले पत्रकारों ने राइफल क्लब में डीएम एमपी सिंह को पत्रक सौंप महाराष्ट्र डीजीपी को बर्खास्त करने की मांग की। पत्रकारों ने कहा कि महाराष्ट्र के डीजीपी ने अपने पद का दुरुपयोग कर बदले की कार्रवाई की है। उनका कहना था कि कलमकारों पर अंकुश लगाना भारतीयगण राज्य के लिए घातक है। अगर ऐसी कृत्यों पर प्रभावी तरीके से रोक नहीं लगी तो लोकतंत्र के लिए खतरा होगा। इस मौके पर एसोसिएशन के अध्यक्ष विनोद कुमार पांडेय, महासचिव चंद्र कुमार तिवारी, उपाध्यक्ष अभिषेक सिंह, सह सचिव शिव प्रताप तिवारी, सत्येंद्र शुक्ल, अनिल उपाध्याय, पदमाकर पांडेय, अमरजीत राय, रविकांत पांडेय, अनिल कुमार, गुलाब राय, अशोक श्रीवास्तव, आलोक त्रिपाठी, सूर्यवीर सिंह, अभिषेक सिंह, पवन श्रीवास्तव, देवब्रत विश्वकर्मा, कमलेश यादव, विनोद गुप्त, विक्की, अजय राय बबलू आदि थे।

    नंदगंज में ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन की बैठक में महाराष्ट्र सरकार की आलोचना की गई। अध्यक्षता जिला उपाध्यक्ष विजय कुमार श्रीवास्तव ने की। बैठक में वेदप्रकाश पांडेय, सुहैल शमीम, रवींद्र जायसवाल, राधेश्याम यादव, विवेक सिंह आदि थे।

    Previous articleमहिला लगाई फांसी, घटना सैदपुर नगर की
    Next articleअसावर पुलिस चौकी इंचार्ज पर भाजपाई खफा