मुख्तार के खास प्रॉपर्टी डीलर गणेश मिश्र पर अब धोखाधड़ी का मामला

    38
    0

    गाजीपुर। बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी प्रॉपर्टी डीलर गणेशदत्त मिश्र अब धोखाधड़ी के मामले में फंस गए हैं। उनके विरुद्ध शहर कोतवाली में मंगलवार को इस आशय की एफआईआर दर्ज हुई।

    मरदह थाने के सुलेमापुर देवकली की कांति पांडेय पत्नी स्व.जयराम पांडेय की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में आरोप लगाया है कि उनके पति पुलिस विभाग से रिटायर होने के बाद गाजीपुर शहर में मकान बनाने की योजना बनाए। उसी सिलसिले में वह लोग गणेश मिश्र के संपर्क में आए। गणेश मिश्र ने प्लाटिंग की अपनी परियोजना बता कर एक प्लाट उपलब्ध कराने की बात कहा। उसके एवज में उसने करीब सवा छह लाख रुपये भी वसूल लिए और एक प्लाट का बैनामा भी उनके नाम कर दिया। जब वह उस प्लाट पर कब्जा लेने पहुंचे तो पता चला कि उसकी रजिस्ट्री पहले ही किसी के नाम हो चुकी है।

    यह भी पढ़ें–पुलिस कप्तान ने अपना ही आदेश बदला

    कांति पांडेय के अनुसार उसी बीच उनके पति का निधन हो गया। गणेश मिश्र से जब वह अपने रुपये लौटाने को कहीं तब उसने खुद को मुख्तार अंसारी का आदमी बताते हुए उन्हें धमकी दी और उल्टे पांव लौटा दिया।

    मालूम हो कि योगी सरकार के निर्देश पर मुख्तार अंसारी और उनके करीबियों पर चल रहे अभियान के क्रम में प्रशासन ने बीते 20 सितंबर को शहर के श्रीराम कॉलोनी निवासी  गणेशदत्त मिश्र की राइफल तथा पिस्टल का लाइसेंस निरस्त कर उन्हें जब्त कर लिया था और अब धोखाधड़ी का मामला दर्ज होने से यह लगभग तय है कि गणेश मिश्र की मुश्किलें और बढ़ेंगी।

    Previous articleकप्तान ने अपना आदेश कुछ ही घंटे में बदला, रजागंज पुलिस चौकी के लाइन हाजिर इंचार्ज को जंगीपुर भेजे
    Next articleमुख्तार के दोनों सालों की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट की रोक