पड़ गई महिलाओं की नजर वरना जिंदा दफन हो जाते तीन बच्चे

    53
    0

    भांवरकोल (गाजीपुर)। कुंडेसर की अनुसूचित बस्ती के तीन मासूम बच्चे मौत के मुंह में जाने से साफ बच गए।

    यह भी पढ़ें–रामविलास पासवान का गाजीपुर कनेक्शन

    वाकया शुक्रवार की सुबह करीब साढ़े आठ बजे का है। गांव के पूरब पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य चल रहा है। उसके लिए गड्ढा खुदा है। उस गड्ढे से मिट्टी लेने के लिए बस्ती के तीन बच्चे नीचे उतरे थे। उसी बीच गड्ढे की ऊपर की मिट्टी अचानक बैठ गई और उसके मलबे में वह बच्चे दब गए। सौभाग्य रहा कि पास में मौजूद गांव की महिलाओं की उन पर नजर पड़ गई। उनके शोर मचाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और किसी तरह मलबा हटा कर उन बच्चों को बाहर निकाले। उनमें जितेंद्र (12) पुत्र नंदू राम तथा विवेक राम (8) पुत्र वीरेंद्र राम को स्थिति गंभीर होने के कारण जिला अस्पताल भेज दिया गया जबकि तीसरे विक्रम (10) पुत्र खरपत्तू राम को सीएचसी मुहम्मदाबाद में मरहम पट्टी कर छुट्टी दे दी गई। सूचना पर एसओ भांवरकोल शैलेश मिश्र भी मौके पर पहुंचे थे।   

      

    Previous article…पर रामविलास पासवान की लंका मैदान में विशाल जनसभा करने की साध नहीं हुई पूरी
    Next articleसपा ने किया गिरफ्तारी देने वाले कार्यकर्ताओं का सम्मान, साफा बांध हुआ माल्यार्पण