फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्रों के बूते नौकरी हथियाने वाले दो और शिक्षकों की खुली पोल, जवाब तलब

    30
    0

    गाजीपुर। परिषदीय स्कूलों में फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्रों के बूते शिक्षक बने और दो की पोल खुल गई है। गुरुवार को उनसे बीएसए ने जवाब तलब किया। उसके बाद उनकी बर्खास्तगी लगभग तय है।

    दोनों शिक्षकों में हवलदार यादव प्राथमिक विद्यालय रेवतीपुर उत्तरी और आशीष कुमार प्राथमिक विद्यालय जबुरना जमानियां में तैनात हैं। बीएसए ऑफिस के मुताबिक हवलदार यादव 2016 में और आशीष कुमार इसी साल शिक्षक की नौकरी हथियाए थे। शिकायत मिलने पर पता चला कि हवलदार यादव का टेट प्रमाण पत्र फर्जी है जबकि आशीष कुमार का टेट व स्नातक की डिग्री फर्जी है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि कुछ और शिक्षकों की सत्यता संदेह के घेरे में है। उनकी भी जांच हो रही है।

    यह भी पढ़ें–बेचारे सपाई! पहले लाठी, अब एफआईआर

    दोनों शिक्षकों के फर्जीवाड़े की पुष्टि के बाद नियमानुसार विभाग दोनों शिक्षकों के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज कराएगा। साथ ही उन्हें अब तक दिए गए वेतन व अन्य भत्तों की एक-एक पाई वसूल की जाएगी।

    Previous articleअब सपाइयों के विरुद्ध एफआईआर, जिलाध्यक्ष सहित 37 नामजद
    Next articleछपरा-दुर्ग एक्सप्रेस 13 से चलेगी