डीएम ने सपाइयों को नहीं दिया रत्तीभर भाव, प्रकट किए गुस्सा तो लठिया कर टांग ले गई पुलिस

    39
    0

    गाजीपुर। जन मुद्दों के लिए बुधवार को खुद से मिलने पहुंचे सपाइयों को डीएम एमपी सिंह की ओर से रत्तीभर भाव नहीं मिला। डीएम के इस अनपेक्षित व्यवहार पर सपाई गुस्सा प्रकट करने लगे तो पुलिस लठियाते हुए उन्हें निषेधाज्ञा तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गई। जहां देरशाम निजी मुचलके पर उनको रिहा कर दिया गया।

    यह भी पढ़ें–…और थानेदार सुहवल की लगी क्लास

    पूर्व घोषित कार्यक्रम के मुताबिक स्थानीय जन सवालों को लेकर सपाई दोपहर 12 बजे सरयू पांडेय पार्क में एकत्र हुए। भाजपा सरकार पर खूब जुबानी वाण दागे गए। उसके बाद डीएम को संबोधित नौ सूत्री ज्ञापन सौंपने की बारी आई। तब डीएम के प्रतिनिधि के रूप में नायब तहसीलदार मौके पर पहुंचे। सपाइयों को यह बात नागवार लगी। वह तमतमाए उठे और राइफल क्लब में मौजूद डीएम एमपी सिंह से मिलने के लिए बढ़े। तब पहले से अलर्ट डंडधर पुलिस बल ने उन्हें रोका। प्रतिक्रिया में सपाई राइफल क्लब के गेट के सामने धरने पर बैठ कर नारेबाजी शुरू कर दिए। एसडीएम सदर प्रभास कुमार उन्हें शांत कराए। तय हुआ कि दस लोग डीएम को ज्ञापन देने चलें। उतने लोग राइफल क्लब तक गए मगर डीएम ज्ञापन लेने के लिए बाहर नहीं निकले। सपाइयों को फिर खटका लगा। वह धरनास्थल पर लौट आए और प्रशासन विरोधी नारेबाजी शुरू कर दिए। अधिकारियों ने उन्हें शांत कराने की कोशिश की मगर सपाई और उग्र होने लगे। जिंदाबाद, मुर्दाबाद के नारे तेज कर दिए। तब पुलिस कर्मी अपने अंदाज में आ गए। लाठी-डंडे बजने लगे। सपाइयों की भीड़ तितर-बितर होने लगी। बावजूद कुछ मौके पर डटे रहे। आखिर में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। दो निजी बस बुलाई गई मगर तब तक उनमें भी कई खिसक चुके थे। एक बस में कुल 37 लोगों को लोड कर पुलिस लाइन में ले जाकर अनलोड कर दिया गया।

    गिरफ्तार किए गए सपाइयों में जिलाध्यक्ष रामधारी यादव के अलावा राजेश कुशवाहा, बजरंगी यादव, सत्येंद्र यादव सत्या, अरुण कुमार श्रीवास्तव, डॉ.समीर सिंह, दिनेश यादव, अमित सिंह लालू, कमलेश सिंह भानु, सिकंदर कनौजिया, चंदन यादव, तहसीन अहमद, जय हिंद यादव, आमिर अली, अशोक बिंद, कन्हैयालाल विश्वकर्मा, अभिनव सिंह, राकेश यादव, कमलेश बिंद, रामाशीष, नन्हे, राहुल सिंह, सुखपाल यादव, लल्लन राम, राजेश यादव, आजाद राय, आशा यादव, रीना यादव, विभा पाल, कन्हैया यादव, देवेंद्र यादव, केदारनाथ सिंह यादव, रिशु यादव, रामाशीष सिंह यादव, नितीश खरवार, राजीव कुमार, अमन गोस्वामी, शैलेंद्र यादव पिंकू, शिवरतन पाल, अशोक यादव, रजनीकांत यादव, नंदलाल यादव, हरिकेश यादव आदि थे।

    Previous articleगंगा पार सड़क जाम से आला अफसर खफा, एसएचओ सुहवल की लिए क्लास
    Next articleराह में रोड़ा बने ग्रामीणों पर फायर झोंक भागे पशु तस्कर, एक जख्मी