कुशवाहा समाज में एकजुटता और शिक्षा जरूरीः जगदीश

    50
    0

    गाजीपुर। कुशवाहा समाज की मुहम्मदाबाद तहसील इकाई की रविवार को हुई बैठक में समाज में एकजुटता और शिक्षा पर जोर दिया गया।

    संगठन के तिवारीपुर मोड़ स्थित कैंप कार्यालय में हुई बैठक में पूर्व सांसद जगदीश कुशवाहा ने कहा कि आज कुशवाहा समाज कई तरह की चुनौतियों का सामना कर रहा है। सामाजिक, आर्थिक व राजनैतिक मोर्चे पर समाज काफी पीछे है। नतीजा कुशवाहा समाज के सामने अपनी पहचान, अस्तित्व व सम्मान का संकट खड़ा हो गया है। इसको पुनः गौरवशाली स्थिति में स्थापित करने के लिए संगठित होकर संघर्ष करना एकमात्र रास्ता है। तभी समाज अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है।

    यह भी पढ़ें—माफिया संजय यादव का मकसद!

    उनका कहना था कि कोई भी समाज तब तक विकास नहीं कर सकता है जब तक अनुशासित तरीके से संगठित न हो। आज डॉ. भीमराव आंबेडकर के शिक्षित बनो और संगठित बनो का वाक्य हमें याद करना होगा। न्यायपालिका, पत्रकारिता तथा अन्य संवैधानिक संस्थाओं में हमें जगह बनानी पड़ेगी और यह सिर्फ शिक्षा से ही संभव है।

    बैठक में संगठन के जिलाध्यक्ष रामराज सिंह कुशवाहा ने कहा कि हमारे समाज के लोग परिश्रमी, ईमानदार तथा सहनशील होते हैं। कभी हमारी सहनशीलता को कायरता समझा जाता है।  हमें इसे दूर करना होगा तथा दूसरे संगठित समाज से सीख लेनी होगी। उन्होंने कहा कि समाज को अपने हक व अधिकार प्राप्त करने के लिए एकजुट होना ही पड़ेगा। इसके अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं है। समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा ने कहा कि समाज ने जब-जब अंगड़ाई ली है देश में सरकार बनाने व बिगाड़ने का काम किया है। हम बुद्ध, अशोक, महात्मा फुले, शहीद जगदेव प्रसाद के वंशज हैं, जिन्होंने समाज में क्रांतिकारी परिवर्तन लाए। अपने प्राणों का बलिदान दे दिया लेकिन कभी अन्याय, शोषण तथा सामंतियों के सामने नहीं झुके। हमें इसके लिए शहीद भगत सिंह के विचारों से प्रेरणा प्राप्त करनी होगी जिसमें उन्होंने बहुसंख्यक आबादी का आह्वान करते हुए कहा था कि सामाजिक आंदोलनों से क्रांति पैदा कर दो। राजनीतिक व आर्थिक क्रांति के लिए कमर कस लो। तुम देश के मुख्य आधार हो।

    बैठक में वरिष्ठ नेता जनक कुशवाहा, तहसील अध्यक्ष अवधेश कुशवाहा, ब्लॉक अध्यक्ष मुहम्मदाबाद दिनेश कुशवाहा, अलगू सिंह कुशवाहा, अनिल कुशवाहा, कमलेश कुशवाहा, प्रधान मनिया पप्पू कुशवाहा, प्रधान जसदेवपुर कपूर चंद कुशवाहा, बलिराम कुशवाहा, महेश कुशवाहा, मनोज, प्रभुनाथ कुशवाहा, रामनारायण, पुरुषोत्तम, ओमकार कुशवाहा, पूर्व प्रधान विजय कुशवाहा, विनोद कुशवाहा, रामध्यान कुशवाहा, पांचू कुशवाहा, रामनिवास, सुरेंद्र, बलिराम, रमापति, जयनारायण कुशवाहा, पारस कुशवाहा आदि उपस्थित रहे। संचालन महासचिव जयप्रकाश कुशवाहा ने किया।   

    Previous articleमाफिया संजय यादव अब गाजीपुर में तलाश रहा सियासी जमीन!
    Next articleकनेरी कांड को लेकर निषेधाज्ञा तोड़ने पर युवा यादव महासभा के नेताओं पर एफआईआर