कनेरी कांड को लेकर निषेधाज्ञा तोड़ने पर युवा यादव महासभा के नेताओं पर एफआईआर

    41
    0

    गाजीपुर। युवा यादव महासभा के नेताओं पर शहर कोतवाली में एफआईआर दर्ज हुई है। उन पर निषेधाज्ञा और कोविड-19 के प्रोटोकॉल तोड़ने का आरोप है। यह एफआईआर गोराबाजार पुलिस चौकी इंचार्ज अनुराग गोस्वामी ने दर्ज कराई है।

    यह भी पढ़ें—कुशवाहा समाज में एकता जरूरी

    एफआईआर में सत्यपाल यादव, गोविंद यादव, प्रवीण यादव, संदीप यादव तथा सूर्य यादव नामजद हैं जबकि 10-15 अज्ञात हैं। इन लोगों ने सादात थाने के कनेरी कांड के विरोध में शनिवार को कलेक्ट्रेट पर बिना इजाजत जुलूस निकाला था और नारेबाजी की थी।

    मालूम हो कि कनेरी में यादव समाज के युवक ओमकार यादव के साथ सादात ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि कमलेश सिंह हकाड़ू ने जाति पूछ कर हमला किया था। इस घटना को लेकर युवा यादव महासभा बेहद गुस्से में है। उसकी मांग है कि हकाड़ू सिंह और घटना में शामिल उनके साथियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाए। अब जबकि घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन के मामले में पुलिस ने संगठन के नेताओं पर एफआईआर दर्ज की है तो युवा यादव महासभा में तीखी प्रतिक्रिया हो रही है। संगठन के लोगों का कहना है कि यह सरासर अन्याय है। हमलावरों की गिरफ्तारी के उलट इसके लिए उठने वाली आवाज को ही दबाने की कोशिश हो रही है। इस अन्याय को युवा यादव महासभा हरगिज बर्दाश्त नहीं करेगा।

    Previous articleकुशवाहा समाज में एकजुटता और शिक्षा जरूरीः जगदीश
    Next articleपिटती मां को बचाने की कोशिश में शराबी पिता को सुला दिया मौत की नींद, गुमनाम फोन ने खोला राज