विकास भवन में अपने इष्ट पं. दीन दयाल उपाध्याय के चित्र पर गंदगी देख भड़के भाजपाई

    39
    0

    गाजीपुर। विकास भवन में शुक्रवार को ऐन जयंती के दिन अपने इष्ट पं.दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर जमी गंदगी देख भाजपाई भड़क गए। मामला की नाजुकता समझ सीडीओ ने अपने कर्मचारियों को फटकार लगाई। उसके बाद वह हरकत में आए और चित्र की सफाई की। माल्यार्पण किए। तब भाजपा नेता वहां से हटे।

    यह भी पढ़ें–डीपीआरओ एसआईटी के सामने पेश

    विकास भवन के मुख्य प्रवेश द्वार के एक ओर पं.दीनदयाल उपाध्याय और दूसरी ओर डॉ. आंबेडकर का चित्र लगा है। किसी सुधिजन ने फोन कर पं.दीनदयाल उपाध्याय की जयंती का हवाला देते हुए उनके चित्र पर जमी धूल, लगे मकड़ी के जाले की ओर भाजपा नेताओं का ध्यान दिलाया। चित्र पर माल्यार्पण न होने की बात कही। उसके बाद वरिष्ठ नेता जितेंद्रनाथ पांडेय, जिला उपाध्यक्ष अखिलेश सिंह, जिला महामंत्री ओमप्रकाश राय, जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि अनिल पांडेय वगैरह जिला कार्यालय से मौके पर पहुंचे और पं.दीनदयाल उपाध्याय का बदहाल चित्र देख भड़क गए। उनकी रिपोर्ट पर जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह ने सीडीओ से शिकायत की। तब सीडीओ दफ्तर के कर्मचारी भागे-भागे चित्र के समक्ष पहुंचे और साफ सफाई कर उस पर फूलमाला चढ़ाए।

    भाजपा की ओर से पं.दीनदयाल उपाध्याय की जयंती जिले भर में बूथ स्तर पर मनाई गई। मुख्य समारोह जिला कार्यालय में आयोजित था। जहां जिलाध्यक्ष भानूप्रताप सिंह की अगुवाई में पं.दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण और गोष्ठी हुई। समारोह में प्रवीण सिंह, जिला मीडिया प्रभारी शशिकांत शर्मा, सुरेश बिंद, आईटी प्रभारी कार्तिक गुप्त, गोपाल राय, अजीत सिंह, राजन सिंह, सुनील यादव, अशोक मौर्य अरविंद बिंद आदि थे।

    इधर नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन विनोद अग्रवाल ने मिश्रबाजार स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा की साफ सफाई कर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर सुनील गुप्त, रासबिहारी राय, गुलाम कादिर राइनी आदि भी थे।

    Previous articleकृषि विधेयक का विरोध, कम्युनिस्ट और कांग्रेसियों को पुलिस ने स्टेशन रोड पर रोका, कलेक्ट्रेट पर सपाइयों ने सौंपा ज्ञापन
    Next articleहत्यारोपित महिला गिरफ्तार, 25 हजार घोषित था ईनामी