श्रम विभाग के छापे से दुकानदारों में हड़कंप, छह बाल मजदूर कार्यमुक्त

    38
    0

    गाजीपुर। श्रम विभाग और पुलिस की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग  यूनिट (एएचटीयू) की टीम ने गुरुवार को शहर में छापामारी कर हड़कंप मचा दिया। इस कार्रवाई में विभिन्न व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में कार्यरत छह बाल मजदूरों को मुक्त करा कर उनके अभिभावकों को सुपुर्द किया गया।

    यह भी पढ़ें—दो थानेदारों की इच्छा कि…

    टीम ने होटल, मिठाई की दुकानों सहित कुल 12 प्रतिष्ठानों में छापामारी की। इनमें संतोष सर्विस सेंटर विशेश्वरगंज, शिवशक्ति ऑटो स्पेयर्स पार्टस बड़ीबाग तथा पंकज ऑटो एजेंसी तिलक नगर में कुल छह बाल मजदूर कार्यरत मिले। उनके अभिभावकों को मौके पर बुलाकर उन्हें सुपुर्द किया गया। साथ ही संबंधित प्रतिष्ठानों के मालिकों से जवाब तलब किया गया।

    श्रम प्रवर्तन अधिकारी लईक अहमद ने बताया कि संबंधित प्रतिष्ठानों के मालिकों से एक हफ्ते में जवाब मिलने पर उनके विरुद्ध आगे की कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्रकाश सिंह के निर्देश पर छापामारी का काम आगे भी जारी रहेगा। छापामारी करने वाली टीम में एएचटीयू इंचार्ज अनिल कुमार पांडेय भी शामिल थे।

    Previous articleदो थानेदारों को रास नहीं आ रहा गाजीपुर!
    Next articleडॉ. पीएन सिंह को मिला बचन सिंह स्मृति सम्मान