विधायक सुनिता सिंह को बाबा किनाराम के ननिहाल की आई सुधि

    27
    0

    गाजीपुर। जमानियां विधायक सुनिता सिंह चाहती हैं कि औघड़ पंथ के महान संत बाबा किनाराम के ननिहाल देवल में स्थापित उनका मठ विकसित हो और वहां उनकी भव्य प्रतिमा स्थापित हो। इलके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री पर्यटन संवर्घन योजना के तहत प्रस्ताव दिया है।

    यह भी पढ़ें—वाह! भाजपाई धो दिए

    योजना के क्रियान्वयन के लिए गठित जिला स्तरीय समिति की बुधवार को राईफल क्लब में हुई बैठक में उस प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। प्रस्ताव के मुताबिक मठ के विकास मे करीब 53 लाख रुपये खर्च होंगे।

    योजना के तहत हर विधानसभा क्षेत्र में किसी प्रमुख स्थल को पर्यटन के लिहाज से विकसित किया जाएगा। बैठक में अन्य छह विधानसभा क्षेत्रों के प्रस्तावों को भी मंजूरी दी गई। इसमें मुहम्मदाबाद विधानसभा क्षेत्र के भांवरकोल ब्लाक स्थित सकोहा में बाबा भदेश्वर नाथ मंदिर, जखनियां विधानसभा क्षेत्र के गांव अलीपुर मदरा में प्राचीन शिव मंदिर, सदर विधानसभा क्षेत्र में विख्यात संत पवहारी बाबा आश्रम, जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र में मरदह ब्लाक के गौरी गांव में देयी माता मंदिर, सैदपुर विधानसभा क्षेत्र में चौमुख नाथ धाम धुवार्जुन और जहूराबाद विधानसभा क्षेत्र में ग्राम खारा स्थित शिव मंदिर

    को पर्यटक स्थल बनाने का प्रस्ताव शामिल रहा।

    बैठक में मौजूद संबंधित एसडीएमगण को डीएम एमपी सिंह ने निर्देशित किया कि वह प्रस्तावित स्थलों का अवलोकन कर लें और इस बात का ध्यान रखें कि वहां पहले से किसी तरह का विवाद न हो। बैठक में डीएम ने बताया कि समिति में आए प्रस्तावों को मंजूरी के लिए शासन को भेजा जाएगा।

    बैठक में समिति की सदस्य सचिव पर्यटन सूचना अधिकारी प्रिया सिंह ने योजना के उद्देश्य, कार्यो वगैरह के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि योजना के तहत एक विधानसभा क्षेत्र में पर्यटक स्थल के प्रस्तावित कार्य पर अधिकतम 50 लाख रुपये शासन देगा। उससे ऊपर की  राशि की पूर्ति संबंधित विधायक निधि से होगी। शासन के वित्त विभाग ने योजना के लिए कार्यदायी संस्था के रूप में प्रदेश प्रोजेक्ट कार्पोरेशन लिमिटेड को नामित किया है। बैठक में विधायक जंगीपुर डॉ. विरेंद्र यादव, विधायक जखनियां त्रिवेणी राम, विधायक जहूराबाद के प्रतिनिधि रामजी राजभर के अलावा सीडीओ श्रीप्रकाश गुप्त, डीएफओ जीसी त्रिपाठी आदि भी उपस्थित थे।

    Previous articleभाजपाई थामे हाथों में झाडू, महापुरुषों की प्रतिमाओं को भी धोए पोछे
    Next articleपुलिस से खफा युवा सपाई, खुद के खिलाफ दर्ज केस वापस न लेने पर करेंगे आंदोलन