पुलिस लाइन में पड़े इंस्पेक्टरों को मिलेंगे थाने!

    26
    0

    गाजीपुर। थाना पाने के सपने देख रहे पुलिस लाइन में पड़े इंस्पेक्टर और सब इंस्पेक्टरों में उम्मीद जगी है। इन सपनों में गुरुवार को तब और पर लग गए जब कप्तान ने उन्हें अपने दफ्तर में तलब कर उनके पिछले कार्यकाल की उपलब्धियों, तैनाती वगैरह की जानकारी ली।

    यह भी देखे—शिक्षकों ने नई शिक्षा नीति को सराहा

    महकमे के सूत्रों के अनुसार पुलिस लाइन में इस वक्त अकेले करीब पांच इंस्पेक्टर और दस सब इंस्पेक्टर थाना इंचार्ज बनने की जुगत में हैं। सूत्रों ने बताया कि कप्तान के दफ्तर में ‘इंटरव्यू’ देने पहुंचे इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर की संख्या करीब 15 थी।

    इस इंटरव्यू को लेकर कप्तान हुजूर किस नतीजे पर पहुंचे। इसका पता तो बाद में चलेगा लेकिन कप्तान दफ्तर से लौटे कुछ इंपेक्टरों, सब इंस्पेक्टरों के चेहरे पर उम्मीद की लकीरें जरुर खींची दिखीं। जाहिर है कि पुलिस कप्तान की कोशिश है कि गाजीपुर की कानून-व्यवस्था और चुस्त-दुरुस्त बने। यह तभी संभव होगा जब काबिल थानेदारों को फिल्ड में उतारा जाएगा। वैसे महकमे में यह भी चर्चा है कि पुलिस कप्तान अपने रीडर के लिए भी लायक इंस्पेक्टर तजवीज रहें हैं।

    इंस्पेक्टरों, सब इंस्पेक्टरों के उनके दफ्तर में इंटरव्यू की कवायद को भी महकमे के कुछ लोग उसी से जोड़ कर देख रहे है। मालुम हो कि मौजूदा रीडर राजकुमार पांडेय किन्हीं कारणों से कई दिनों से लंबी छुट्टी पर चल रहे हैं। फिलहाल उनका कार्यभार सब इंस्पेक्टर शिवनारायण सिंह देख रहे हैं।

    Previous articleशिक्षकों ने माना कि नई शिक्षा नीति में भारतीय भाषाओं का होगा विकास
    Next articleअब मुख्तार की पत्नी को नोटिस, मामला निर्माणाधीन व्यवसायिक परिसर में अवैध निर्माण का