वाराणसी-गोरखपुर रेल खंड पर ट्रेनों के नियमित परिचालन की उठी मांग

    29
    0

    गाजीपुर। वाराणसी-गोरखपुर रेल खंड पर यात्री ट्रेनों का परिचालन बंद होने से गाजीपुर के पश्चिमोत्तर हिस्से के लोगों को काफी दुश्वारियां झेलनी पड़ रही हैं। वैश्विक महामारी कोविड-19 को लेकर करीब छह माह पहले देश भर में लॉकडाउन के साथ ही रेल सेवा बंद कर दी गई थी लेकिन बाद में कई प्रमुख रेल खंडों पर यात्री ट्रेनों का परिचालन शुरू हो गया।

    यह भी पढ़ें—भाजपा: कई बूथ खाली!

    बावजूद वाराणसी-गोरखपुर रेल खंड पर आज तक यह सेवा शुरू नहीं हुई है। इसके अभाव में गाजीपुर के कई इलाकों खासकर जखनियां, सैदपुर आदि के दैनिक यात्रा करने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लोग इस रेल खंड पर ट्रेनों के नियमित परिचालन की मांग भी करने लगे हैं। इनकी जरूरतों को समझते हुए क्षेत्रीय रेल यात्री परामर्शदात्री सम्मीती (जेडआरयूसीसी) के सदस्य और अखिल भारतीय रेल यात्री महासंघ के अध्यक्ष श्रीराम जायसवाल ने पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक गोरखपुर व मंडल प्रबंधक वाराणसी को चिट्ठी भेजने के साथ ही फोन से वार्ता कर उनका ध्यान इस ओर आकृष्ट कराया है। उन्होंने कहा है कि देश में चरणबद्ध तरीके से अनलॉक हो रहा है। इस स्थिति में वाराणसी-गोरखपुर रेल खंड पर भी यात्री ट्रेनों का परिचालन शुरू होना चाहिए। इस रेल खंड पर नियमित चलने वाली कृषक एक्सप्रेस, चौरीचौरा एक्सप्रेस, इंटरसिटी एक्सप्रेस का परिचालन फिर से शुरू करना जनहित में होगा।

    श्री जायसवाल ने बताया कि ट्रेनों के परिचालन के निर्णय का अधिकार  रेल मंत्रालय के पास होने की बात कह महाप्रबंधक और मंडल प्रबंधक ने आश्वस्त किया कि उनकी चिट्ठी पर सहानुभूति विचार करने के लिए रेल मंत्रालय से आग्रह किया जाएगा।

    Previous articleभाजपा: यादव और मुस्लिम बाहुल्य कई बूथों पर गठित नहीं हो सकी कमेटी!
    Next articleइनामिया सहित दो बदमाश पकड़े गए, लूट की बाइक और दो असलहे बरामद