मुख्तार की लखनऊ में बिल्डिंग ढहाई गई

    40
    0

     गाजीपुर। योगी सरकार बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी पर किसी तरह की रहम देने के मूड में नहीं दिख रही है।

    गुरुवार की अलसुबह लखनऊ के डालीबाग में मुख्तार के अवैध कब्जे वाले भूखंड में बनी बिल्डिंग ढहा दी गई। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) ने यह कार्रवाई की। इसके लिए मजदूरों सहित करीब 20 जेसीबी लेकर एलडीए की टीम मौके पर पहुंची थी। मीडिया में आई खबर के मुताबिक वह भूखंड शत्रु संपत्ति है लेकिन मुख्तार अंसारी ने अपने रसूख और खौफ के बूते उस भूखंड पर जबरिया कब्जा कर उसे अपने दोनो बेटे अब्बास अंसारी और उमर अंसारी के नाम करा लिया था। फिर वहां दो मंजिली बिल्डिंग खड़ा करवा दिया था।

    यह भी पढ़ें—शिक्षक सम्मान, किसके माथे

    बिल्डिंग ढहाने पहुंचे एलडीए के दस्ते को मौके पर रोकने की कोशिश हुई लेकिन दस्ते ने किसी की कुछ नहीं सुनी और कुछ ही देर में बिल्डिंग तास के पत्ते की तरह ढह गई। इसके पूर्व दस्ते के लोगों ने बिल्डिंग के गेट का ताला तोड़ कर परिसर में रखे बिल्डिंग निर्माण के सामान को बाहर फेंक दिया। एलडीए की ज्वाइंट सेक्रेटरी ऋतु सुहास ने बिल्डिंग ढहाने का आदेश बीते 11 अगस्त को दी थी। मुख्तार अंसारी गैंग की अवैध, बेनामी संपत्ति की जब्ती और ढहाने की कार्रवाई दिनों से चल रही है। इस क्रम में गाजीपुर सहित मऊ, आजमगढ़, जौनपुर, वाराणसी में भी कार्रवाई हुई है। गैंग से जुड़े लोगों की धर पकड़ भी हो रही है। कुछ दिन पूर्व गैंग के शूटर राकेश पांडेय उर्फ हनुमान को लखनऊ में पुलिस मुठभेड़ में मार गिराया गया था। योगी सरकार की इस सख्ती से गैंग में दहशत है। कई शूटर प्रदेश तक छोड़ दिए हैं।

    Previous articleराज्य पुरस्कार को लेकर शिक्षकों में उत्सुकता, परिषदीय विद्यालयों के कुल 14 दावेदार
    Next articleपरिषदीय स्कूलों में फिर दिखेगी बागावानी, 400 स्कूल चिन्हित