परिषदीय स्कूलों में फिर दिखेगी बागावानी, 400 स्कूल चिन्हित

    27
    0

    गाजीपुर (कुमार नीरज)। परिषदीय स्कूलों में फिर से बागवानी की तैयारी है। स्कूलों में न्यूट्रीशन गार्डेन बनाए जाएगें। बेसिक शिक्षा परिषद ने यह प्लान बनाया है।

    इसकी पुष्टि बीएसए श्रवण कुमार ने भी की। बताए कि न्यूट्रीशन गार्डेन स्कूलों में चल रही मिड डे मील योजना के तहत यह गार्डेन बनाए जाएगें। इसके पीछे उद्देश्य यही है कि स्कूल में मिड डे मील में परोसे जाने वाले भोजन में न्यूट्रीशन गार्डेन में उपजी हरी व ताजी सब्जीयां उपलब्ध कराई जा सकें। इसके लिए स्कूल को पांच हजार रुपये दिए जाएगें। बीएसए ने बताया कि गार्डेन बनाने का काम मनरेगा से होगा और इसमें ग्रांम पंचायत, उद्यान विभाग का भी सहयोग लिया जाएगा।

    यह भी पढ़ें—मुख्तार की बिल्डिंग जमींदोज

    गाजीपुर में कुल 2755 परिषदीय स्कूल हैं। इनमें 802 जूनियर हाई स्कूल हैं। न्यूट्रीशन गार्डेन के लिए 400 स्कूलों का चयन किया गया है। चयन में उन्हीं स्कूलों को लिया गया है, जिनके कैंपस में गार्डेन के लिए जगह है। मालूम हो कि कुछ दशक पहले तक परिषदीय स्कूलों में बागवानी का काम होता था। तब कृषि की पढ़ाई में बच्चों से  स्कूल में बागवानी कराई जाती थी। हालांकि न्यूट्रीशन गार्डेन के संबंध में विशिष्ट बीटीसी शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अनंत सिंह से चर्चा की गई तो उनका कहना था कि यह योजना स्वागत योग्य है लेकिन इसकी जिम्मेदारी और जवाबदेयी किसकी होगी यह भी स्पष्ट करना होगा। ऐसा नहीं कि मिड डे मील और अन्य गैर शैक्षणिक कार्यों की तरह न्यूट्रीशन गार्डेन का काम भी प्रधानाध्यापकों पर ही थोप दिया जाए।     

       

    Previous articleमुख्तार की लखनऊ में बिल्डिंग ढहाई गई
    Next articleहत्या के मामले में बाप, बेटे और बहू सहित पांच को दस साल की कैद