मुंबई में सिखा लूट का हुनर, आजमाने लौटा गांव और…

    38
    0

    गाजीपुर। गांव के इस छोरे को माया नगरी मुंबई की चकाचौध अपनी ओर ऐसी खींची कि वह वहां पहुंच गया और अपराधियों की संगत में रह कर उसने जरायम की हर फितरत और फन सिखे। लूट में माहिर हो गया। लेकिन यह सब उसने अपने गांव बरूइन थाना जमानियां के इलाके में आजमाने का प्लान बना गांव लौट आया। गैंग बनाकर यह इलाके में हाथ दिखाना शुरू ही किया था कि पहली वारदात में ही दो साथियों संग पुलिस के हत्थे चढ़ गया। यह किस्सा है जमानियां कोतवाली के बरूइन निवासी सौरभ सिंह का।

    यह भी पढ़ें…तब चेयरमैन लड़ेंगी चुनाव!

    पुलिस कप्तान डॉ. ओम प्रकाश सिंह ने सोमवार की दोपहर उन्हें मीडिया के सामने पेश किया। गिरफ्तार गैंग लीडर सौरभ सिंह के अलावा उसका साथी अरुण यादव भी बरूइन का रहने वाला है जबकि तीसरा अजय प्रताप सिंह उसी इलाके के धुस्का गांव का रहने वाला है। पुलिस कप्तान ने इनकी गिरफ्तारी को महकमे के लिए बड़ी उपलब्धि बताया। घटनाक्रम की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि रविवार की रात करीब दस बजे असइचनपुर पुलिया के पास दाऊदपुर के  युवक अजीत यादव पर हमला कर उसकी बाईक लूटा गया था। छानबीन में सौरभ के गैंग की संलिप्तता की बात सामने आई। उसके बाद एसएचओ जमानियां राजीव सिंह ने सोमवार की सुबह बरूइन नहर पुलिया के पास गैंग को धर दबोचा। लूट की बाईक भी बरामद कर ली गई। इसके लिए पुलिस कप्तान ने अपनी ओर से एसएचओ जमानियां और उनकी टीम को दस हजार रुपये के नकद ईनाम की घोषणा की।

    सौरभ की लूट के मामले में गिरफ्तारी पर उसके गांव के लोग हैरान नहीं हैं। गांव के लोगों ने बताया कि मुंबई में वह बैंक की कैश वैन तक लूटा था। उस सिलसिले में मुंबई पुलिस गांव तक आई थी और सौरभ सहित उसके एक साथी को पकड़ कर ले भी गई थी।

    Previous articleकोरोना ने वरिष्ठ वकील की ली जान
    Next articleभाजपा नेताओं को दलाल कह थाने से भगाया, करतूत एसओ बिरनो की