मास्टर प्लान के अवर अभियंता अपने दलालों के जरिये करते हैं ‘मैनेज’

    55
    0

    गाजीपुर। मास्टर प्लान के बहुचर्चित अवर अभियंता की और एक फितरत सामने आई है। जनाब अपने ‘मैनेजमेंट’ में विभागीय कर्मियों पर भरोसा नहीं करते। बल्कि इसके लिए वह कुछ दलाल पाल रखें हैं। इसके प्रमाण का एक वीडियो क्लिप आजकल समाचार के पास मौजूद है।

    यह भी पढ़ें—मास्टर प्लान का कारनामा यह भी

    अवर अभियंता की गतिविधियों पर बारीक नजर रखनेवालों के मुताबिक उनके दलाल शहर के कुछ  नक्शानवीश हैं। यह नक्शानवीश ही ‘साहब’ के लिए शिकार तलाशते हैं। मास्टर प्लान प्रभावी इलाके में भ्रमण कर किसी तरह के भवन निर्माण स्थल पर पहुंच कर वीडियो बनाने के साथ वहां की फोटो लेते हैं। लगे हाथ वह निर्माणकर्ता को संदेश भी देते हैं कि वह साहब  से जाकर मिल लें। मास्टर प्लान की धौंस में आकर निर्माणकर्ता साहब के दफतर में पहुंचता है। वहां उन्हीं दलालों के माध्यम से सबकुछ मैनेज हो जाता है। अगर कोई निर्माणकर्ता साहब के दरबार में हाजिरी न लगाने की गुस्ताखी करता है तब साहब उसके विरुद्ध नोटिस भेजवाते हैं। फिर तो उस निर्माणकर्ता का कोर्ट का चक्कर शुरू हो जाता है। आखिर में थक कर उस निर्माणकर्ता को शरणागत होना ही पड़ता है।

    उसके बाद साहब के नक्शानवीशों की भूमिका शुरू होती है। वह निर्माणकर्ता को बताते है कि कोर्ट का चक्कर लगता रहेगा मगर नतीजा मिलेगा नहीं। भलाई इसी में है कि वह मामला मैनेज कर लें और निर्माणकर्ता उस सलाह को मानने को विवश हो जाता है।

    Previous articleच्यवनप्राश पर विश्वास, आइसक्रीम बेस्वाद
    Next articleसबसे कमजोर मोर्चे जंगीपुर में भाजपा तैनात की अपना ‘जनरल’