कीचड़ के छींटे पड़ने पर युवकों ने फूंका बोलेरो, एक्सप्रेसवे निर्माण कर्मियों को पीटे, सात गिरफ्तार

    34
    0

    गाजीपुर। मरदह थाना के सिंगेरा गांव के मनबढ़ों ने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे निर्माण स्थल पर जमकर बवाल किया। निर्माण एजेंसी का बोलेरो फूंक दिए और कर्मचारियों संग मारपीट किए। इस मामले में निर्माण करा रही कंपनी के इंजीनियर ने गांव के 20 नामजद और दस अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। नामजद सात अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना उसी क्षेत्र के कोदई गांव के पास सोमवार की शाम करीब साढ़े पांच बजे की है।

    निर्माण कार्य करा रही कंपनी ओरिएंटल इस्ट्रक्चर इंजीनियरिंग के तीन कर्मचारी बोलेरो से निर्माण कार्य का जायजा लेने निकले थे। उसी बीच कोदई गांव के पास उनकी बोलेरो के पहिए से कीचड़ का छींटा गुजर रहे बाइक सवार दो युवकों पर पड़ गया। फिर तो वह युवक आग बबूला हो गए और बोलेरो सवार कर्मचारियों से उलझ गए। उसी बीच युवकों ने फोन कर अपने गांव सिंगेरा से और लोगों को बुला लिए। हालत की नाजुकता देख बोलेरो सवार दो कर्मचारी खिसक गए। ग्रामीणों ने उनके तीसरे साथी को मारा पीटा और बोलेरो को मौके पर ही आग के हवाले कर दिए। यह खबर मिलते ही मरदह  थाना प्रभारी शरदचंद्र त्रिपाठी सदलबल मौके पर पहुंच गए।

    यह भी पढ़ें–वाकई! बलिया जीता, हारा गाजीपुर

    सीओ कासिमाबाद महमूद अली पहुंच गए। कंपनी के इंजीनियर बल्लभ पांडेय ने एफआईआर दर्ज कराई। योगी सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजना से जुड़े कर्मचारियों के साथ इस घटना को लेकर अधिकारियों के फोन बजने लगे। छापामारी शुरू हो गई। सात नामजद लोगों को धर दबोचा गया। हालांकि अभियुक्तों की पैरवी में इलाकाई नेता पुलिस अधिकारियों को फोन किए लेकिन पुलिस अधिकारियों ने योगी सरकार की परियोजना से जुड़े कर्मचारियों संग बवाल का हवाला देकर हाथ खड़ा कर दिए।

    Previous articleवाकई! गाजीपुर की जगह बलिया से होगा दो सुपरफास्ट ट्रेनों का संचालन
    Next articleगाजीपुर की बेटी ने बलिया में की खुदकुशी, मनियर नगर पंचायत की थी ईओ